Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं

Bacche Kaam Par Ja Rahe Question Answer

You can Download बच्चे काम पर जा रहे हैं Questions and Answers, Summary, Activity, Notes, Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 help you to revise complete Syllabus and score more marks in your examinations.

Kerala State Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं (कविता)

बच्चे काम पर जा रहे हैं Text Book Questions and Answers

बच्चे काम पर जा रहे हैं विश्लेषणात्मक प्रश्न

बच्चे काम पर जा रहे हैं Question Answer प्रश्ना 1.
‘हमारे समय की सबसे भयानक पंक्ति है यह’ ऐसा क्यों कहा गया है?
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 1
उत्तर:
बच्चों का काम पर जाना भयानक स्थिति है। यह कानूनन अपराध है। फिर भी कई बच्चे रोटी के लिए तरसते हैं। वे अपने परिवार के सदस्यों की भूख मिटाने के लिए काम पर जाते हैं। यह देश की डरावना स्थिति है।

HSSLive.Guru

Bacche Kaam Par Ja Rahe Question Answer प्रश्ना 2.
बातों को सवालों की तरह लिखा जाने से क्या फायदा है?
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 2
उत्तर:
अकसर हम समस्याओं को विवरण की तरह लिखते हैं, और उस पर चर्चा होती रहती है। कोई हल नहीं निकलता । समस्याओं को सवालों की तरह लिखा जाने से यह फायदा होती है कि उसका जवाब मिल जाता है। समस्या का एक हद तक समाधान होता है।

बच्चे काम पर जा रहे हैं प्रश्न उत्तर प्रश्ना 3.
‘क्या किसी भूकंप में ढह गई हैं सारे मदरसों की इमारतें’ इन पंक्तियों द्वारा कवि क्या कहना चाहते हैं?
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 3
उत्तर:
प्रस्तुत पंक्तियों से बच्चों की पढ़ाई करने के हक से वंचित होने की बात बताते हैं। यहाँ ‘मदरसों की इमारतें’ पाठशालाएँ है। गरीब बच्चे आज भी पढ़ाई से वंचित रहते है।

बच्चे काम पर जा रहे है प्रश्ना 4.
यह कविता किस सामाजिक समस्या की चर्चा कर रही है?
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 4
उत्तर:
यह कविता बालश्रम की चर्चा कर रही है। बालश्रम यानी बच्चों से किये जाने वाला कठिन काम आजकल बढ़ता जा रहा है। इसके विरुद्ध समाज को प्रतिक्रिया करनी है। सरकार भी – इस मामले में उचित कारवाई करें तो इस समस्या का एक हद तक हल कर पाएँगे ।

बच्चे काम पर जा रहे हैं Text Book Activities & Answers

अभ्यास के प्रश्न बच्चे काम पर जा रहे हैं

Bacche Kaam Par Ja Rahe Hain प्रश्ना 1.
ये पंक्तियाँ पढ़ें।
(क्या काले पहाड़ के नीचे दब गए हैं सारे खिलौने?)
क्या दीमकों ने खा लिया है
सारी रंग-बिरंगी किताबों को?
इन पंक्तियों से कवि क्या कहना चाहते हैं? चर्चा करें।
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 5
उत्तर:
कवि यहाँ बच्चों की दुनिया को मनोवैज्ञानिक नज़रिए से पेश करते हैं। बचपन में बच्चों को खिलौने चाहिए। पढ़ने के लिए किताबें चाहिए। खेलने के लिए गेंद चाहिए। पढ़ने के लिए स्कूल चाहिए। खेल के मैदान, बगीचे या आँगन चाहिए। लेकिन यहाँ के बच्चे इन सबसे वंचित हैं। उन्हें मैदान, बगीचे या आँगन में खेलने का मौका नहीं है। खिलौनों से वे वंचित हैं। स्कूल और शिक्षा उनसे बहुत दूर हैं।

10th स्टैंडर्ड प्रश्ना 2.
नमूने के अनुसार लिखे :
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 6
उत्तर:
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 7

प्रश्ना 3.
कविता की आस्वादन टिप्पणी तैयार करें।
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 8
उत्तर:
बाल मजूरी पर तीखा प्रहार करनेवाली कविता – बच्चे काम पर जा रहे हैं
बच्चे काम पर जा रहे हैं श्री राजेश जोशी की कविता है। इसमें कवि ने मनोवैज्ञानिक ढंग से बच्चों की दुनिया पर नज़र डालते हैं। कवि कहते हैं कि बच्चे काम पर जा रहे हैं। वह भी ऐसे समय में जब रास्ता कोहरे से ढका हुआ है। उन्होंने पाठकों से कुछ प्रश्न करते हैं-क्या काले पहाड़ के नीचे दब गए हैं सारे खिलौने?, क्या दीमकों ने खा लिया है | सारी रंग-बिरंगी किताबों को?, क्या अंतरिक्ष में गिर गई है सारी गेदे?, क्या किसी भूकंप में ढह गई है / सारे मदरसों की इमारते? और क्या सारे मैदान, सारे बगीचे और घरों के आँगन खत्म हो गए हैं एकाएक? ये प्रश्न बहुत नुकीले हैं। इन प्रश्नों के माध्यम से कवि कहते हैं कि बचपन खिलौनों से खेलने, किताबों की दुनिया में घूमने, स्कूल में पढ़ाई करने का समय है। ऐसे समय में बच्चों का काम पर जाना बहुत भयानक समस्या है।

कवि प्रश्न करते हैं कि बच्चों के काम पर जाने का कारण क्या है? विश्लेषण करने से हमें मालूम हो जाएगा कि मूल कारण गरीबी है। गरीबी से बचने के लिए बच्चों को भी काम पर जाना पड़ रहा है। अशिक्षित माँ-बाप भी इसका कारण हो सकता है। यह कविता कुछ नुकीले प्रश्न हमारे सामने रखती है। ये प्रश्न हमें बाल मजूरी पर सोचने को विवश करते है।

HSSLive.Guru

प्रश्ना 4.
बच्चे काम पर क्यों जाते होंगे? लिखें।
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 9
उत्तर:
अकसर ऐसे बच्चों के परिवार गरीब होते हैं। अनपढ़ माँ-बाप ऐसे परिवारों में होते हैं। रोज़ी रोटी के लिए माँ-बाप के साथ बच्चों को भी काम पर जाना पड़ता है।

प्रश्ना 5.
पोस्टर तैयार करें।
अपने बचपन से वंचित कई बच्चे हैं। उनकी मदद करना हमारी भी ज़िम्मेदारी है। बालश्रम के विरुद्ध एक पोस्टर तैयार करे।
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 10
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 11
उत्तर:
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 17

बच्चे काम पर जा रहे हैं Orakkum Questions and Answers

गतिविधि -1

सूचनाः ‘बच्चे काम पर जा रहे हैं’ कविता की पंक्तियाँ पढें और अनुबद्ध प्रश्नों के उत्तर लिखें।
क्या अंतरीक्ष में गिर गई है सारी गेंदें
क्या दीमकों ने खा लिया है
सारी रंग-बिरंगी किताबों को
क्या काले पहाड़ के नीचे दब गए है सारे खिलौने
क्या किसी भूकंप में ढह गई है
सारे मदरसों की इमारतें।

प्रश्ना 1.
क्या दीमकों ने खा लिया है
सारी रंग-बिरंगी किताबों को
– इन पंक्तियों से क्या तात्पर्य है?
उत्तर:
बचपन पढ़ने का समय है। लेकिन काम पर जाने के कारण उन्हें पढ़ने केलिए समय नहीं मिलता हैं।

प्रश्ना 2.
‘क्या अंतरिक्ष में गिर गई हैं सारी गेंदें – इस पंक्ति में गिर गई हैं’ क्रिया रूप किस शब्द के आधार पर हैं? (अंतरिक्ष, क्या, गेंद)
उत्तर:
गेंद

प्रश्ना 3.
क्या काले पहाड़ के नीचे दब गए हैं सारे खिलौने’ – का मतलब क्या है?
खिलौने पहाड के नीचे हैं।
पहाड़ और खिलौने काले हैं।
बच्चे खेलने के अवसर से वंचित हैं।
उत्तर:
बच्चे खेलने के अवसर से वंचित हैं।

HSSLive.Guru

प्रश्ना 4.
इस कविता की आस्वादन टिप्पणी लिखें।
उत्तर:
श्री राजेश जोशी हिंदी के आधुनिक कवियों में प्रमुख हैं। “बच्चे काम पर जा रहे हैं” बालश्रम पर तीखा प्रहार करनेवाली कविता हैं। मनुष्यता को बचाए रखने का एक निरंतर संघर्ष आपकी कविताओं की विशेषता हैं।
कवि कहते हैं – जब सड़क कोहरे से ढका हुआ है तब बच्चे काम पर जा रहे हैं। ये बच्चे खिलौने, किताब, गेंद, स्कूल, खेलने के मैदान इस सब से वंचित है। कवि पाठकों से थोडा प्रश्न पूछते है – क्या सारी गेंद अंतरिक्ष से गिर गई हैं? सारी रंग-बिरंग किताबों को दीमकों ने खा लिया हैं? सारे खिलौने काले पहाड़ के नीचे दब गए हैं? सारे मदरसों की इमारतें भूकंप में ढह गई हैं? इन प्रश्नों द्वारा कवि कहते है कि बचपन उन्हें काम पर जाने का समय नहीं। बच्चों का पढने का समय हैं। बच्चों का काम पर जाना भयानक समस्या है।

कवि पूछते हैं – बच्चे क्यों काम पर जा रहे हैं? इस प्रश्न का उत्तर यह हैं कि माता-पिता। यदि परिवार गरीब हैं और बहुत संकट में हैं, तब माता-पिता को अपने बच्चे को काम पर भेजना पड़ता हैं। जो भी हो आज दुनिया की हज़ारों सडकों से सुबह छोटे-छोटे बच्चे काम पर जा रहे हैं। हम सबको मालूम है कि बच्चे राष्ट्र की अमूल्य निधि है। उसको संपूर्ण सुरक्षा प्रदान करना है। बालश्रमिकों के शोषण की यह परंपरा अनादि काल से चली आ रही हैं और अभी भी समाज में एक मानवीय कलंक के रूप में व्याप्त है। बालश्रम के विरुद्ध हम सब को आवाज़ उठानी है।

प्रश्ना 5.
बालश्रम दुनिया भर में प्याप्त एक दुस्थिति है। बाल मज़दूरी के विरुद्ध एक पोस्टर तैयार करें।
उत्तर:
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 12

बच्चे काम पर जा रहे हैं Summary in Malayalam and Translation

Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 13
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 14

HSSLive.Guru

बच्चे काम पर जा रहे हैं शब्दार्थ

Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 15
Kerala Syllabus 10th Standard Hindi Solutions Unit 5 Chapter 1 बच्चे काम पर जा रहे हैं 16

Leave a Comment

error: Content is protected !!